BRAHMAKUMARIS Aaj Ka Purusharth 11 MARCH 2018 – आज का पुरूषार्थ

To Read 10 March Shiv Baba’s Mahavakya :-  Click Here

Om Shanti
11.03.2019

★【 आज का पुरूषार्थ】★

बच्चों का मन बार-बार इधर-उधर जाता है … तो बाबा कहते हैं … बच्चे, ऐसा तो होगा ही, क्योंकि ये आपके जन्म-जन्म के संस्कार हैं।

बस, आप अपना attention बढ़ाते जाओ। 
भिन्न-भिन्न युक्तियों के द्वारा मन को बाप में लगाओ, तो फिर ये संस्कार भी खत्म हो जायेंगे…।

भिन्न-भिन्न युक्तियां, जैसे; 
• बाप से बीच-बीच में रूह-रिहान करो … अर्थात् बाप को अपना कार्य समर्पण करो। 
• मन को समझानी दो। 
• स्वयं के मालिक बन, आत्मिक दृष्टि का अभ्यास करो। 
• बार-बार शरीर से detach हो घर (परमधाम) जाने की यात्रा करो। 
फिर इन युक्तियों से मुक्ति मिल जायेगी…।

बस, इस यात्रा में ना ही थकना है, ना ही हारना है और ना ही दिलशिकस्त होना है … अलबेला तो बिल्कुल नहीं होना…।

यदि आप अलबेले हो स्वयं को छूट दे देते हो, तो मन-बुद्धि उस कार्य में busy हो जायेगी। 
फिर उससे निकलना मुश्किल हो जायेगा…!

यदि आप किसी भी कारणवश अपना attention कम कर देते हो, तो फिर बाप से सहयोग नहीं प्राप्त कर सकते…! 
धीरे-धीरे थककर हार जाते हो…! 
फिर बताओ आप मंज़िल पर कैसे पहुँचोगे…?

बाप की पालना और अपने ऊँचे भाग्य को स्मृति में रख, स्वयं पर attention बढ़ाते चलो।

बस, आपको attention रखने का ही तो पुरूषार्थ करना है, फिर बाप आपका हर तरफ से बुद्धियोग हटा, आप समान बना, अपने संग ऊपर बिठा लेगा…।

यदि आप ये महसूस करते हो – कि मेरी attention में कमी है, तो फिर बाप (परमात्मा शिव) को भी अपने उस लौकिक कार्य का साथी बना लो। अपने उस कार्य में भी बाप के साथ का अनुभव कर बाप से रूह-रिहान करते रहो।

जैसे साकार (इस दुनिया में) में किसी भी कार्य के लिए अपने बड़ों की सलाह और मदद ली जाती है, इस तरह का बाप से अनुभव करो। 
फिर उस कार्य में सफलता भी मिलेगी और आप जल्द ही उन संकल्पों से detach भी हो जाओगे।

देखो बच्चे, बाप के सहयोग के बिना, अपनी मंज़िल पर पहुँचना नामुमकिन है। इसलिए भिन्न-भिन्न युक्ति लगा, सच्चाई और सफाई के साथ बाप को हर पल का अपना साथी बना लो … और जिसका साथी स्वयं भगवान हो, तब तो आप सहज ही हर तूफान को पास कर अपनी मंज़िल पर समय से पहले पहुँच जाओगे…।

अच्छा। ओम् शान्ति।

【 Peace Of Mind TV 】
Dish TV # 1087 | Tata Sky # 1065 | Airtel # 678 | Videocon # 497 |
Jio TV |

" omshanti1 : ."