BRAHMAKUMARIS DAILY MAHAVAKYA 4 NOVEMBER 2017

To Read 3 November Shiv Baba’s Mahavakya :- Click Here

04.11.2017

          “आज बाबा ने कहा “

ओम् शान्ति ।

बच्चे, science हैं आत्माओं की बुद्धि द्वारा की गई खोज। यह powerful है और इस कलियुग के अन्त में मनुष्य आत्माओं के जीवन का आधार है। परन्तु silence (शान्ति) – यह है परमात्म शक्ति, जो इस समय आप बच्चों को बाप के द्वारा प्राप्त होती है। और जिस आत्मा के पास यह शक्ति है, वह सदा विजयी है … उसको जीतना असम्भव है।

जहाँ शान्ति है, वहाँ सन्तुष्टता है … सहनशीलता है … मधुरता है … अचल स्थिति है … अर्थात् सभी गुण और सभी शक्तियाँ है।

यदि शान्ति की percentage में फर्क है, तो आपके अन्दर अन्य गुण और शक्तियों में भी कमी होगी। इसलिए हमेशा check करो कि मैं कुछ भी बोलते हुए, करते हुए या सुनते हुए बिल्कुल शान्त अर्थात् अटल रहता हूँ…?

कोई भी बात वा परिस्थिति मुझे हलचल में तो नहीं लाती…?

यदि हिलते हों, तो फिर से अपनी शान्त स्थिति में स्थित हो शिव बाप के संग जाकर बैठ जाओ, परन्तु हमेशा स्वयं पर attention रखना कि यह परमात्म शक्ति मुझे परमात्म gift के रूप में मिली है, जोकि मेरी विजय का आधार है … तो इसे मुझे स्मृति में रख use करना है। जितना आप use करोगे, उतनी यह शक्ति बढ़ती जायेगी…।

जिसके पास silence की शक्ति है तो उसकी science पर विजय है ही है।

बच्चे,हर पल स्वयं की checking करनी चाहिए कि हम शान्त हैं…?

हमें शान्ति की स्थिति को किसी भी हाल में नहीं छोड़ना है। यह शान्ति की स्थिति ही हमारी सभी प्राप्तियों का आधार है।

अच्छा ।

ओम् शान्ति ।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Font Resize