BRAHMAKUMARIS DAILY MAHAVAKYA 21 APRIL 2018 – Aaj Ka Purusharth

To Read 20 April Shiv Baba’s Mahavakya :- Click Here

Om Shanti
21.04.2018

★【 आज का पुरुषार्थ 】★

बच्चे, आप सब बच्चों के अन्दर अब एक ही लग्न होनी चाहिए कि अब घर जाना है … मुझ आत्मा को बाप के (पिता परमात्मा) संग घर जाना है। 
यही लग्न आपको सभी दुःखों से मुक्त कर बाप-समान बना देगी।

देखो बच्चे, यह अन्त में जो भी परिस्थितियाँ आ रही है, वह आपको powerful बनाने और इस पाँच तत्वों की दुनिया से न्यारा करने आ रही है।

बस आप स्वयं को श्रेष्ठ आत्मा समझ बाप की याद में रहो, तब सभी तूफान तोहफा बन जायेगे … powerful बनो, इनसे घबराओ मत बल्कि अपनी seat पर set हो सबकुछ बाप को समर्पण कर हल्के हो जाओ…।

और जब भी इस तन का कोई हिसाब-किताब आये तो इस तन को भी बाप को समर्पण कर बाप की याद में बैठ जाओ, फिर जल्दी ही बाप सब परिवर्तित कर देगा…।

देखो बच्चे, पुराना हिसाब-किताब जब चुक्तु होता है तो थोड़ी बहुत भोगना तो होती ही है, परन्तु तब बच्चों को और सब भूल केवल बाबा ही याद रहता है।

बस बच्चे अमानत में खयानत मत करना। 
बाप की श्रीमत को 100% follow करने का attention रखना क्योंकि यह पुरूषार्थ सदा का है … सदा का पुरूषार्थ ही आपको दुनिया से न्यारा कर बाप का प्यारा बनायेगा।

बस वह समय भी बाप की आँखों के सामने ही है और बहुत जल्दी आप भी अनुभव करोगे। 
बच्चे, अब समय अनुसार समर्पण भाव को बढ़ाते जाओ…। 
जितना-जितना समर्पण भाव को बढ़ाते चले जाओगे … उतना ही मैं और मेरे-पन से दूर अर्थात् वैराग्य वृत्ति अर्थात् एकरस स्थिति अर्थात् निन्दा … स्तुति … सुख … दुःख … मान … अपमान … सबमें एक समान स्थिति हो जायेगी…।

बच्चे, जितना-जितना समर्पण भाव बढ़ता जायेगा, उतना ही अशरीरी स्थिति में स्थित होना easy हो जाएगा … इच्छाओं का अन्त हो जायेगा … सन्तुष्टता … खुशी … और उमंग-उत्साह बना रहेगा, जिससे आप हल्के रह उड़ते रहोगे और कर्म करते भी कर्म से न्यारे रह कर्मातीत अवस्था हो जायेगी।

बच्चे, इस स्थिति को ही बाप-समान स्थिति कहा जाता है। 
इस स्थिति में स्थित रहने से आप बच्चों को बहुत सहज कामयाबी मिलेगी और आपके संकल्प भी सिद्ध होने शुरू हो जायेंगे।

बस बच्चे, attention दे जो कुछ भी मेरा है उसे तेरा-तेरा करने का पुरूषार्थ करो … यहीं पुरूषार्थ आप बच्चों को ‘Pass With Honour’ बना देगा…।

अच्छा । ओम् शान्ति ।

【 Peace Of Mind TV 】
Dish TV # 1087 | Tata Sky # 1065 | Airtel # 678 | Videocon # 497 |
Jio TV |

" omshanti1 : ."